Saturday, 26 January 2019

Android Phone Ke Liye 10 Hidden Secret Features, जिनके बारे में नहीं जानते होंगे आप

इंडिया में स्मार्टफोन यूज़ करने वाले ग्राहकों के आंकड़ों को देखा जाए तो आईफोन और ब्लैकबेरी के मुकाबले एंड्रॉयड फोन यूज करने वाले ग्राहकों की संख्या ज्यादा है। इसलिए अगर आप भी एक एंड्रॉयड फोन उपयोगकर्ता करता है तो यह आर्टिकल आपके लिए बहुत खास हो सकता है। क्योंकि मैं इस आर्टिकल में एंड्रॉयड फोन के 10 ऎसे सीक्रेट फीचर्स (Secret Features) के बारे में बताने वाला हूं (Android Phone Ke Liye 10 Hidden Secret Features) जिनके बारे में नहीं जानते होंगे आप। एंड्राइड फोन यूज करने वाले उपयोगकर्ता डेवलपर ऑप्शन के बारे में जरूर सुने होंगे या फिर आप में से कुछ लोग इस ऑप्शन को एक्टिव भी कर रखे होंगे, लेकिन उनका सही तरीके से उपयोग करना नहीं जानते हैं। यदि आप भी अापने एंड्राइड फोन में डेवलपर ऑप्शन यूज करना चाहते हैं तो सबसे पहले इसे एक्टिव करना होगा। क्योंकि यह एंड्रॉयड फोन में बाय डिफॉल्ट पहले से एक्टिव नहीं होता है इसे मैनुअली एक्टिव करना पड़ता है। बेसिकली एंड्राइड फोन में डेवलपर ऑप्शन को एक्टिव करने के लिए फोन सेटिंग में जाकर अबाउट में जाना होगा, इसके बाद यहां एक बिल्ड नंबर का ऑप्शन दिखाई देगा, इस नंबर पर लगातार आपको 5 बार क्लिक करना है। क्लिक करने के बाद डेवलपर ऑप्शन ऑन हो जाएगा। फिर आप वहां से वापस बैक आए, यहां पर आपको डेवलपर ऑप्शन मिल जाएगा। डेवलपर ऑप्शन में आपको बहुत सारे फीचर मिलेंगे, इन सभी का उपयोग अपनी आवश्यकतानुसार कर सकते हैं।

Android Phone Ke Liye 10 Hidden Secret Features

Android Phone Ke Liye 10 Hidden Secret Features

  1. सिम्युलेट सेकंडरी डिस्प्ले(SIMULATE SECONDARY DISPLAY)

  2. यदि आप अपने मोबाइल में एक साथ दो स्क्रीन देखना चाहते हैं तो इस ऑप्शन को चुन सकते हैं। इस ऑप्शन को इनेबल करने के बाद फोन में सेकेंडरी डिस्प्ले दिखाई देगा। बस इस फीचर को डेवलपर ऑप्शन में जाकर इनेबल करना है। इसके बाद आपके फोन में एक साथ 2 डिस्पले दिखाई देंगे।
  3. स्टे अवेक(STAY AWAKE)

  4. इस फीचर को एक्टिव करने के बाद मोबाइल को चार्ज करते समय उसका डिस्पले बंद नहीं होता है। इस फीचर को इनेबल करने के लिए डेवलपर ऑप्शन में जाकर स्टे अवेक ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। ऐसा करने के बाद यह फीचर एक्टिव हो जाएगा। अब आप फोन जब भी चार्ज में लगाएंगे तो उसका डिस्प्ले ऑफ नहीं होगा।

    Also Read- SmartPhone Me Non Removable Battery Kyo Lagai Jati Hai
  5. अग्रेसिव वाईफाई(AGGRESIVE WIFI)

  6. यह फीचर आपके लिए बहुत खास हो सकता है। क्योंकि वाई-फाई यूज करते समय उसका सिग्नल कभी-कभी वीक हो जाता है। ऐसे में अगर आप इस फीचर को ऑन कर लेते हैं तो, वाई-फाई सिग्नल जब भी विक होता है, तो यह फीचर ऑटोमेटिक मोबाइल डाटा को ऑन कर देता है।
  7. विंडो एनीमेशन स्केल(WINDOW ANIMATION SCALE)

  8. विंडो एनीमेशन स्केल बहुत अच्छा और महत्वपूर्ण फीचर है इसकी मदद से फोन के एनिमेशन को कंट्रोल कर सकते हैं। विंडो एनीमेशन स्केल को डाउन करके फोन की स्पीड को बढ़ा सकते हैं। क्योंकि विंडो एनिमेशन स्किल को बढ़ाने पर फोन के एप्लीकेशन स्लो लोड होते हैं। इसी तरह विंडो एनिमेशन स्किल को घटाने पर एप्लीकेशन फास्ट लोड होते हैं, जिससे फोन की स्पीड बढ़ जाती है।
  9. 4 एक्स एम.एस.ए.ए.(4X MSAA)

  10. इस फीचर की मदद से फोन के परफॉर्मेंस को बढ़ा सकते हैं। इस फीचर को ऑन करने के बाद फोन की ग्राफिक स्पीड बढ़ जाती है। मान लीजिए आप फोन में गेम खेलते हैं और आपके फोन का ग्राफिक्स अच्छा नहीं है। फोन स्लो चलता है और बार-बार हैंग होता है, तो इस फीचर को ऑन कर लीजिए क्योंकि इसे ऑन करने के बाद फोन का ग्राफिक परफॉर्मेंस बढ़ जाता है।

    Also Read- ग्राहकों को इस तरह बेवकूफ बनाते हैं दुकानदार, फोन खरीदते समय जरूर देखें यह बातें
  11. यूएसबी डिबगिंग(USB DEBUGGING)

  12. यह सबसे ज्यादा फेमस है क्योंकि इस फीचर को ज्यादातर लोग यूज़ करते हैं। यह फीचर मोबाइल को लैपटॉप या कंप्यूटर से कनेक्ट करने के काम लिया जाता है। इस फीचर को ऑन करने के बाद ही मोबाइल किसी कंप्यूटर के सॉफ्टवेयर से कनेक्ट होता है। मान लीजिए आप फोन के माध्यम से कंप्यूटर में इंटरनेट चलाना चाहते हैं, तो पहले आपको फोन में (USB DEBUGGING) ऑन करना होगा, इसके बाद ही मोबाइल से कंप्यूटर में इंटरनेट कनेक्ट होगा।
  13. शो टचेस(SHOW TOUCHES)

  14. इस फीचर को इनेबल करके फोन स्क्रीन पर टच लोकेशन को देख सकते है। जैसे ही इस फीचर को ऑन करने के बाद स्क्रीन को टच करते हैं वहां पर एक डॉट दिखाई देगा। यह डॉट उस लोकेशन को बताता है जहां से फोन की स्क्रीन टच हो रही है।
  15. ट्रान्झिशन एनिमेशन स्केल(TRANSITION ANIMATION SCALE)

  16. इस फीचर को एक्टिव करने के बाद फोन के ट्रान्झिशन को कंट्रोल कर सकते हैं मान लीजिए आप फोन के किसी एप्लीकेशन को ओपन करते हैं तो वहापर जो भी ट्रान्झिशन दिखेगा यानि एक एप्लिकेशन को ओपन होने के बिच में जो ट्रान्झिशन यूज होगा। वह ट्रांज़िशन आपको कितनी देर में दिखेगा या फिर कितना दिखेगा वह आप यहां से कंट्रोल कर सकते हैं।

    Also Read- Google Opinion Rewards App Se Paise Kaise Kamaye
  17. रनिंग सर्विस(RUNNING SERVICE)

  18. इस फीचर को अनेबल करने के बाद पता लगा सकते हैं कि फोन में कौन-कौन से एप्लीकेशन रन कर रहे हैं। क्योंकि फोन में जो एप्लीकेशन काम नहीं आते और बिना कारण रन करते हैं ऐसे एप्लीकेशन को यहां से पता लगाकर बंद कर सकते हैं। वो इसलिए क्योंकि जब फोन में कोई एप्लीकेशन रन करता है तो वह फोन की बैटरी और रैम का यूज करता है इससे फोन स्लो हो जाता है और बैटरी जल्दी खर्च होती है।
  19. ओईएम अनलॉक(OEM UNLOCK)

  20. यह फीचर फोन के होमस्क्रीन को कस्टम अपग्रेड करने के लिए काम आता है। अगर आप एंड्रॉयड फोन की होमस्क्रीन को कस्टम अपग्रेड करना जानते हैं तो इस फीचर की मदद से कर सकते हैं क्योंकि इस फीचर को ऑन करने के बाद ही एंड्रॉयड फोन के होमस्क्रीन को कस्टम अपग्रेड किया जा सकता है।

Tuesday, 22 January 2019

SmartPhone Me Non Removable Battery Kyo Lagai Jati Hai- वजह जान कर होंगे हैरान

वक्त के साथ सब कुछ बदल रहा है इंसान अपनी आवश्यकता के अनुसार हर एक चीज को बेहतर बना रहा है। पहले लैंडलाइन फोन थे, फिर मोबाइल फोन आया और अब स्मार्टफोन का जमाना है। पिछले दो-तीन साल से स्मार्टफोन को और स्मार्ट बनाने के लिए चार्जिंग केबल से लेकर मोबाइल बैटरी तक काफी बदलाव हुए हैं। आपने नोटिस किया होगा की पहले स्मार्टफोन में रिमूवेबल बैटरी लगाई जाती थी, जिसे फोन से अलग किया जा सकता था। लेकिन अब हर कंपनी के स्मार्टफोन में Non Removable Battery लगाई जाती है (SmartPhone Me Non Removable Battery Kyo Lagai Jati Hai) जिसे फोन से अलग नहीं किया जा सकता है। आखिर इस बदलाव के पीछे क्या कारण है? आज इस आर्टिकल में हम आपको यही बताएंगे।

SmartPhone Me Non Removable Battery Kyo Lagai Jati Hai

यह बात हम जानते हैं की मोबाइल सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर की मदद से कार्य करता है इसलिए जाहिर सी बात है की (Mobile) में दो तरह की खराबी मुख्य रूप से होती है, पहली सॉफ्टवेयर से संबंधित और दूसरी हार्डवेयर से संबंधित। हार्डवेयर से संबंधित खराबी के लिए हमें रिपेयरिंग सेंटर जाना पड़ता है, परंतु सॉफ्टवेयर से संबंधित खराबी की वजह से फोन हैंग होने पर हम खुद से भी ठीक कर लेते थे। इसलिए आपको पता होगा की पहले Non Removable Battery वाले फोन हैंग होते थे तो, हम सबसे पहले क्या करते थे। हैंग होने पर हम सबसे पहले फोन की बैटरी निकालते थे और उसे वापस लगाकर फोन ऑन करते थे, इससे फोन ठीक हो जाता था, लेकिन अब Non Removable Battery वाले स्मार्टफोन में ग्राहक को सिर्फ पावर बटन पर निर्भर रहना पड़ता है। इसकी वजह से ग्राहक फोन को बार-बार ओपन नहीं करता है क्योंकि फोन डायरेक्ट पावर बटन से ऑफ हो जाता है। इसके पीछे स्मार्टफोन बनाने वाली कंपनियों ने कई तर्क दिए हैं। कंपनियों के मुताबिक Non Removable Battery की वजह से ग्राहक स्मार्टफोन को बार-बार ओपन करके छेड़छाड़ नहीं करता है जिससे फोन की बैटरी और बॉडी जल्दी खराब नहीं होती है और ज्यादा दिनों तक चलती है। इससे पहले स्मार्टफोन की बैटरी खराब होने पर बाजार से हम किसी भी कंपनी की बैटरी यूज कर लेते थे, जिससे फोन में विस्फोट हो जाता था। कारण कुछ भी हो लेकिन नाम खराब तो कंपनी का ही होता था, जिससे कंपनी की बदनामी होती थी।

क्लिक कर पढ़े

स्मार्टफोन में Non Removable Battery आने के बाद ज्यादातर ग्राहक बैटरी खराब होने पर उसे बदलवाने ऑथराइज सर्विस सेंटर पर ही जाते हैं। क्योंकि नॉन रिमूवेबल बैटरी की वजह से ग्राहक फोन को ओपन नहीं कर पाता है। इसलिए उसे मजबूरन ऑथराइज सर्विस सेंटर पर ही जाना पड़ता है। हालांकि इससे कंपनी और ग्राहक दोनों को फायदा है। ग्राहक को बैटरी के साथ वारंटी मिलती है और कंपनी का माल बिकने से उसे बेनिफिट होता है। इसके अतिरिक्त Non Removable Battery के कारण फोन का आकार काफी पतला हो गया हैं जो दिखने में पहले से अच्छे और मजबूत होते हैं। नॉन रिमूवेबल बैटरी वाले स्मार्टफोन को कंपनियां अच्छी तरीके से सील करके भेजती है। जिससे फोन में धूल मिट्टी और पानी जाने का खतरा काफी हद तक कम हो गया है।

आपके फोन में नॉन रिमूवेबल बैटरी है या नहीं नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बताएं?

Sunday, 20 January 2019

ग्राहकों को इस तरह बेवकूफ बनाते हैं दुकानदार, फोन खरीदते समय जरूर देखें यह बातें

टेक्नोलॉजी न्यूज: भारतीय स्माटफोन बाजार दुनिया में काफी पॉपुलर है क्योंकि यहां स्मार्टफोन यूज़ करने वालों की संख्या कई देशों की जनसंख्या से ज्यादा है हर दिन कंपनियां बढ़-चढ़कर नये स्मार्टफोन लॉन्च करती है। यहां ग्राहकों में फोन खरीदने की उत्सुकता इस कदर है कि फोन आज से दो महीने बाद लांच होगा और उसका इंतजार अभी से करने लग जाते हैं, लॉन्च होने के बाद ग्राहक फोन खरीदने के लिए काफी उत्साहित रहते है। इसलिए फोन ऑफलाइन मार्केट से पहले ऑनलाइन मार्केट में उपलब्ध कराए जाते हैं। यानी कई ई-कॉमर्स वेबसाइट पर फोन लॉन्च होते ही बेचने के लिए उपलब्ध करा दिए जाते हैं इसके कुछ दिनों बाद ऑफलाइन मार्केट में भी उपलब्ध करा दिए जाते हैं। जो ग्राहक ऑनलाइन ई-कॉमर्स वेबसाइट से खरीदना जानते हैं वह तो लॉन्च होते ही खरीद लेते हैं और जो ग्राहक ऑनलाइन खरीदने में असमर्थ रहते हैं वह ऑफलाइन खरीदने का इंतजार करते हैं, ऑफलाइन खरीदने वाले ग्राहक दुकानदार के पास जाकर फोन खरीदते है, इनमें कई दुकानदार ऐसे होते हैं जो ग्राहकों के साथ काफी धोखाधड़ी करते हैं, निर्धारित कीमत से ज्यादा पैसों में फोन बेचते हैं, मजबूरन ग्राहकों के पास और कोई ऑप्शन नहीं होने के कारण वे उसी दुकानदार से ही फोन खरीदते हैं उन भोले-भाले ग्राहकों को दुकानदार बेवकूफ बना देते हैं। इसलिए आज मैं आपको कुछ ऎसी जरूरी बातें बता रहा हूँ जो दुकानदार से फोन खरीदते वक्त ध्यान में रखनी है।
phone kharidate samay jarur dekhe yah baate

फोन खरीदते समय जरूर देखें यह बातें

दुकानदार से फोन खरीदने वाले ग्राहक पहले यह डिसाइड कर ले की उन्हें कौनसा फोन खरीदना है। इसके बाद उसके रैम, प्रोसेसर, डिस्पले और बैटरी के बारे में अच्छे से जानकारी प्राप्त कर ले। ग्राहक इस बात का ध्यान रखें कि अपने बजट में अच्छी रैम, अच्छे प्रोसेसर और लॉन्ग बैटरी लाइफ वाले स्मार्टफोन का ही चुनाव करें। इसके बाद ग्राहक फोन खरीदने बाजार जाए तो अपनी पसंद से चुना हुआ फोन ही खरीदें। ग्राहक अपने निर्णय पर टिके रहे, क्योंकि दुकानदार अपने फायदे के चक्कर में आपको दूसरा फोन खरीदने के लिए ऊकसाएगा। वह अपनी पसंद के फोन की तारीफें करेगा और आपके द्वारा चुने हुए फोन की बुराइयां करेगा। लेकिन ग्राहक दुकानदार के चक्कर में ना पड़े क्योंकि दुकानदार उसी कंपनी के फोन की बढ़-चढ़कर तारीफें करता है जो उसे ज्यादा मुनाफा देती है। इसलिए दुकानदार के झांसे में ना आए और अपनी पसंद से चुना हुआ फोन ही खरीदें।
phone kharidate samay jarur dekhe yah baate

क्लिक कर पढ़े

फोन खरीदने के बाद दुकानदार आपको फिर से चूना लगाने की कोशिश करेगा। वह आपसे फोन में फ्री एंटीवायरस डालने की बात करेगा। कहेगा कि यह एंटीवायरस डालने के बाद आपके फोन में वायरस नहीं आएगा इसे कभी डिलीट मत करना, यह कहकर बिना मतलब के बहुत सारे एप्स इंस्टॉल कर देगा। दरअसल दोस्तों वह कोई एंटीवायरस नहीं डालेगा। फोन में एंटीवायरस का नाम लेकर रेफरल एप्लीकेशन डाल देगा जिन्हें रेफर करके वह ऑनलाइन पैसे कमाता है। और वैसे भी दोस्तों एंड्राइड फोन में किसी भी तरह के एंटीवायरस की आवश्यकता नहीं होती है क्योंकि जो काम एंटीवायरस करता है वह काम आप फोन में मैनुअल भी कर सकते हैं। अगर आप फिर भी फोन एंटीवायरस डालते हैं तो मैं आपको बता दूं कि एंटीवायरस फोन को स्लो कर देता है और बैटरी भी ज्यादा खपत करता है क्योंकि एंटीवायरस फोन के बैकग्राउंड में रन करता है जिससे बैटरी लगातार खपत होती है इसलिए दुकानदार की बातों में ना उलझे और अपनी आवश्यकता अनुसार ही फोन मे एप्लीकेशन इन्स्टाल करे।

उम्मीद है दोस्तों अब आप समझ गए होंगे। आशा करता हूँ की दुकानदार से फोन खरीदते वक्त यह गलतियां कभी नहीं करेंगे।

Saturday, 12 January 2019

LPG Cylinder Par Likhe Number Ka Matlab Kya Hota Hai

अब जमाना बदल गया है गांव हो या शहर हर रसोई घर में LPG Cylinder का इस्तेमाल किया जाता है। परिवार का हर सदस्य बच्चे, बुजुर्ग और महिलाएं सिलेंडर का इस्तेमाल करना सीख चुके हैं, लेकिन इस्तेमाल के साथ उससे जुड़ी सुरक्षा का भी ध्यान रखना बहुत जरूरी है क्योंकि एक छोटा सिलेंडर भी बड़ी से बड़ी दुर्घटना को अंजाम दे सकता है इसलिए परिवार के हर सदस्य को सिलेंडर की सुरक्षा से जुड़ी इन महत्वपूर्ण बातों का ध्यान होना बेहद जरूरी है, जब भी आप सिलेंडर भरवाने जाए तो उसकी जांच अवश्य करें क्योंकि यह आपके परिवार की सुरक्षा के लिए बेहद जरूरी है।

LPG Cylinder Par Likhe Number Ka Matlab Kya Hota Hai

हर महीने सिलेंडर भरवाने हम गैस एजेंसी या डीलर के पास जाते हैं, सिलेंडर भरवाने के बदले मे उन्हें खाली सिलेंडर और कुछ पैसे देने होते हैं जिनके बाद वह हमें भरा हुआ सिलेंडर वापस देता है। भरा सिलेंडर लेते समय उस पर लिखे नंबरों का ध्यान रखे, लेकिन कई लोगों को यह पता ही नहीं होता की LPG Cylinder पर यह नंबर क्यों लिखा जाता है। हालांकि यह सिलेंडर की सुरक्षा से जुड़ा हुआ बहुत ही महत्वपूर्ण Number होता है, लेकिन फिर भी लोग इस पर ध्यान नहीं देते हैं। शायद ही कोई इस नंबर के बारे में जानने का प्रयास करता है।
LPG Cylinder पर इस नंबर को एक विशेष कोड लैंग्वेज ‘अंग्रेजी और गणित के अंको को मिलाकर लिखा जाता है।’ जिनका मतलब यह होता है कि सिलेंडर की जांच कब की जाएगी। गणित के अंक के साथ अंग्रेजी के A, B, C और D को लिखा जाता है।

  1. A का मतलब जनवरी से मार्च होता है।
  2. B का मतलब अप्रैल से जून होता है।
  3. C का मतलब जुलाई से सितंबर होता है।
  4. D का मतलब अक्टूबर से दिसंबर होता है।

इनके साथ लिखे जाने वाले गणित के अंक साल को दर्शाते हैं। उदाहरण के लिए किसी सिलेंडर पर D-20 लिखा है तो इसका मतलब यह हुआ कि सिलेंडर की जांच अक्टूबर से दिसंबर 2020 के बीच की जाएगी। आपको बता दें कि LPG Cylinder की अधिकतम आयु 15 वर्ष रखी जाती है इसके बाद उसे नष्ट कर दिया जाता है। इस अवधि के दौरान LPG Cylinder को हर 5 वर्ष के अंदर जांच के लिए भेजा जाता है।

क्लिक करके पढ़े-

उम्मीद है दोस्तों अब आप समझ गए होंगे की Cylinder पर लिखे इस Number का मतलब क्या होता है, इसलिए जब भी सिलेंडर भरवाने जाए तो इस नंबर को जरूर देखें। अगर काफी दिनों से किसी सिलेंडर की जांच नहीं की गई है तो उसे ना ले इसके बदले में दूसरा सिलेंडर ले, क्योंकि यह आपके परिवार की सुरक्षा के लिए बेहद जरूरी है।

Tuesday, 8 January 2019

Isliye Mobile Charger Ka Cable Chhota Diya Jata Hai

आज कल लोगों के पास और कुछ मिले या ना मिले पर मोबाइल फोन जरूर मिल जाता है, इसलिए सोचिए कि आप फोन में कोई मूवी देख रहे हैं या गेम खेल रहे हैं या फिर कोई जरूरी काम कर रहे हैं और अचानक उसकी बैटरी डिस्चार्ज हो जाती है उस वक्त आपको कैसा महसूस होगा। मैं बताता हूं उस वक्त आपके दिमाग में सिर्फ 2 ही बातें आएगी, खास इसकी बैटरी थोड़ी और ज्यादा बड़ी होती तो बार-बार डिस्चार्ज ना होती। या फिर इसका चार्जिंग केबल इतना बड़ा होता कि मैं इसे चार्ज में लगाकर आराम से पलंग पर बैठकर अपना काम पूरा कर लेता।
परंतु असल में ऐसा होता नहीं है क्योंकि Mobile Phone बनाने वाली कोई भी कंपनी फोन के साथ इतना बड़ा चार्जिंग केबल नहीं देती है कि उसे चार्ज में लगाकर आराम से यूज किया जा सके। दरअसल कंपनियां जानबूझकर ऐसा नहीं करती है इसके पीछे कई साइंटिफिक रीजन है जिसकी वजह से फोन के साथ Chhota Charging Cable दिया जाता है।
Also Read- Google Opinion Rewards App Se Paise Kaise Kamaye

Mobile Charger Ka Cable Chhota Kyo Diya Jata Hai


क्या कारण है

  1. साधारण दिखने वाली Charging Cable सिर्फ फोन चार्ज करने के लिए ही नहीं होती है बल्कि इसका उपयोग डाटा केबल के रूप में भी किया जाता है यानी किसी अन्य डिवाइस से फोन में डाटा ट्रांसफर करने के लिए भी इसका उपयोग किया जाता है। ज्यादा बड़े तार में डाटा ट्रांसफर करने की स्पीड कम हो जाती है और फोन भी स्लो चार्ज होता है, इसलिए कम्पनी छोटा Charging Cable देती है।
  2. फोन के साथ ज्यादा बढ़ा Charging Cable होगा तो लोग चार्ज में लगाकर फोन इस्तेमाल करेंगे और चार्ज करने के दौरान फोन का इस्तेमाल करने से फोन की बैटरी जल्दी खराब हो जाती है, इसलिए चार्जिंग तार छोटा दिया जाता है।
  3. चार्जिंग के समय फोन का इस्तेमाल करना हमारे लिए भी काफी खतरनाक हो सकता है क्योंकि चार्ज करते समय फोन इस्तेमाल करने से बैटरी में विस्फोट होने का खतरा बढ़ जाता है जो हमारे लिए काफी खतरनाक हो सकता है, इसलिए कम्पनी Chhota Cable देती है।

उम्मीद है दोस्तों अब आप समझ गए होंगे कि मोबाइल फोन बनाने वाली कंपनियां फोन के साथ बड़ा चार्जिंग केबल क्यों नहीं देती है।

Saturday, 5 January 2019

Umang App Kya Hai Puri Jankari Aur Iske Kya Fayde Hai

यह कहना गलत नहीं होगा कि आज हम सब इंटरनेट पर निर्भर हो गए है। छोटे से छोटा काम करने के लिए भी हमें इंटरनेट की जरूरत होती है यहां तक मोबाइल रिचार्ज करने के लिए भी इंटरनेट की जरूरत होती है इस बात से आप अंदाजा लगा सकते हैं की इंटरनेट हमारी जिंदगी का कितना अहम हिस्सा बन गया है। पहले की तुलना में अब हमारा कार्य करने का तरीका बदल गया है, पहले छोटे से छोटा काम करवाने के लिए भी हमें दफ्तरों के चक्कर लगाने पड़ते थे, लेकिन अब जिसे इंटरनेट चलाना आता है वह घर बैठकर भी अपना काम ऑनलाइन कर सकता है।

Umang App Ki Puri Jankari Aur Fayde

Umang app UMANG App kya hai?

केंद्र सरकार ने डिजिटल इंडिया बनाने के लिए ‘UMANG’ ऐप लांच किया है जिसका पूरा नाम Unified Mobile Application For New-Age Governance है, जिसकी मदद से हम केंद्र सरकारराज्य सरकार की 162 से ज्यादा योजनाओं का डायरेक्ट लाभ उठा सकते हैं और उनके लिए आवेदन भी कर सकते हैं।
उमंग एप को Minister Of Electronic And Information Technology (MEIT) Aur National Of E-Governance Division (NEGD) ने मिलकर बनाया है। इसमें हम सरकारी योजनाओं के साथ सरकारी एजेंसियों की सुविधाओं का भी लाभ उठा सकते हैं। इसलिए उमंग ऐप को 5th Global Conference On Cyberspace के अंतर्गत सामील किया गया है। यह एप्लीकेशन हमारे लिए बहुत अच्छा साबित हो सकता है क्योंकि इस App की खास बात यह है कि इसमें सब सुविधाओं को एक साथ शामिल किया गया है अलग-अलग योजनाओं के लिए दूसरा एप्लीकेशन यूज करने की आवश्यकता नहीं हैं सब सेवाओं का लाभ एक ही एप्लीकेशन से उठा सकते हैं।

किन-किन योजनाओं का लाभ उठा सकते हैं?

UMANG App में जिन सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैं वह नीचे लिस्ट में अंकित की गई है। आम लोगों को ध्यान में रखते हुए इसे इंडिया की 10 से अधिक भाषाओं में लॉन्च किया गया है और यह Android, iOS, Windows जैसे सभी मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए उपलब्ध कराई गई है।
  1. आयुष्मान भारत
  2. Goods & Service Tax Network
  3. टैक्स भुगतान
  4. नेशनल स्कॉलरशिप
  5. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड
  6. ई-पाठशाला
  7. National Digital Library of India
  8. All India Council for Technical Education
  9. ड्राइविंग लाइसेंस
  10. पासपोर्ट सेवा
  11. चुनाव आयोग
  12. Digi Locker
  13. पैन कार्ड
  14. Employees' State Insurance Corporation
  15. आधार कार्ड
  16. जीवन प्रमाण पत्र
  17. नेशनल पेंशन योजना
  18. CISF
  19. CRPF
  20. DigiSevak
  21. नेशनल कस्टमर हेल्पलाइन
  22. खोया पाया (Citizen's Corner Of Track Child)
  23. CHILDLINE 1098
  24. National Urban Livelihoods Mission
  25. E-raktkosh(Blood Bank)
  26. भारत गैस
  27. इंडियन गैस
  28. HP गैस
  29. Telecom Regulatory Authority of India
  30. परिवहन सेवा- सारथी
  31. परिवहन सेवा- वाहन
  32. सौभाग्य योजना
  33. स्वच्छ भारत मिशन
  34. भारत बिल पे
  35. बीमा योजना
  36. फसल बीमा योजना
  37. मृदा स्वास्थ्य कार्ड
  38. Buyer Seller - mKisan
  39. किसान सुविधा
  40. अन्नपूर्णा कृषि प्रसार सेवा
  41. प्रधानमंत्री जन धन योजना
  42. प्रधानमंत्री मुद्रा योजना
  43. प्रधानमंत्री उज्जवल योजना
  44. प्रधान मंत्री कौशल विकास योजना
  45. प्रधान मंत्री अवास विकास योजना

Umang App Kaise Use Kare?

  1. UMANG APP का इस्तेमाल करने के लिए सबसे पहले इसे प्ले स्टोर से डाउनलोड करके अपने फोन में इंस्टॉल कर ले
  2. इसके बाद इसे ओपन करें और अपनी पसंद के अनुसार भाषा का चयन करें और इसके आगे टर्म्स एंड कंडीशन का पेज ओपन होगा उसे ध्यान से पढ़ कर नीचे चेक बटन ‘I Agree’ पर क्लिक कर दे और फिर नेक्स्ट बटन दबाएं

  3. इसके बाद अगले पेज में मोबाइल नंबर डालकर OTP Verify करे इसके बाद नीचे MPIN का ऑप्शन दिखाई देगा यहां MPIN सेट करना होगा। इसमें आप अपने अनुसार 4 अंकों का कोई भी पासवर्ड सेट कर सकते हैं।

  4. इसके बाद आपका अकाउंट क्रिएट हो जाएगा और नीचे कंप्लीट माय प्रोफाइल का ऑप्शन दिखाई देगा यहां से ईमेल आईडी, अल्टरनेट मोबाइल नंबर और 2 सिक्योरिटी प्रशन चयन करके उनका सही जवाब देना होगा। यह डिटेल पासवर्ड भूलने पर रिसेट करने के लिए काम आती है।
  5. अब आपका अकाउंट तैयार है यहां से सभी योजनाओं का फ्री में लाभ उठा सकते हैं।

इस बात का ध्यान रखें

UMANG App केंद्र सरकार द्वारा लांच की गई है। इसलिए इसमें केंद्र सरकार की योजनाएं सामील की गई है, अगर आप इसमें अपने State Government की योजनाओं का भी लाभ उठाना चाहते हैं तो रजिस्ट्रेशन के बाद अपने State का चयन करना ना भूले।

Thursday, 3 January 2019

Google Opinion Rewards App Se Paise / Google Play Credit Kaise Kamaye

इंटरनेट पर ऑनलाइन पैसे कमाने के बहुत से तरीके हैं लेकिन उन सब पर विश्वास करना थोडा मुस्किल होता है क्योंकि उनमें से कई कंपनियां फर्जी भी हो सकती है, डर इस बात का रहता है कि काम करने के बाद कंपनी पेमेंट भी करेगी या नहीं लेकिन जब बात गूगल जैसी दिग्गज कंपनी की हो तो उस पर सबको विश्वास हो ही जाता है। गूगल पूरी दुनिया में सबसे विश्वसनीय कंपनियों में से एक है, गूगल के ऎसे बहुत से प्रोडक्ट है जिनसे लोग ऑनलाइन काम करके पैसे कमाते हैं जैसे YouTube, Blogging, AdMob आदि। इसी तरह आज हम गूगल के एक और प्रोडक्ट ‘Google Opinion Rewards’ के बारे में आपको बता रहे हैं जिसमें आप ऑनलाइन पैसे कमा सकते हैं।

Google Opinion Rewards App Se Paise / Google Play Credit Kaise Kamaye

Google Opinion App Google Opinion Rewards App कैसे इस्तेमाल करे ?

गूगल के इस प्रोडक्ट का नाम (Google Opinion Rewards) है, इससे ऑनलाइन पैसे कमाने के लिए स्मार्टफोन में गूगल के ऑफिशियल एप्लीकेशन (Google Opinion Rewards) को इंस्टॉल करना होगा। वैसे तो एंड्राइड फोन में गूगल के बहुत से एप्लीकेशन पहले से इंस्टॉल आते हैं लेकिन इस एप्लीकेशन को गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करना होगा।

इस तरह कमाए पैसे:-

  1. Browser Push Notification Kaise Disable Kare
  2. Android Phone Ki Battery Kaise Bachaye
  3. Android Mobile Me Long Screenshot Kaise Le
इंस्टॉल होने बाद इसे जीमेल आईडी से साइन अप करवाना होगा। साइन अप होने के बाद स्क्रीन पर एक सर्वे दिखाई देगा, आपको उस सर्वे को कंप्लीट करना होगा। Survey कंप्लीट होते ही उसके पैसे गूगल प्ले स्टोर के अकाउंट में डाल दिए जाएंगे।

पैसे कहाँ खर्च करे ?

इन पैसों से आप Google Play Store से Paid Apps, Paid Songs, Paid Movies कुछ भी खरीद सकते हैं, आप YouTube पर भी इन पैसों से Paid Videos खरीद सकते हैं।
इस एप्लीकेशन को अपने स्मार्टफोन में इंस्टॉल करके रखना है। क्योंकि गूगल इस App पर आपको हर 3 से 4 दिन में कंप्लीट करने के लिए नया सर्वे देता है, इन्हें कंप्लीट करके ऑनलाइन पैसे कमा सकते हैं।

इस बात का जरुर ध्यान रखे

  1. यह आप पर निर्भर करता है कि आप किस भाषा को अच्छे से पढ़ना जानते हो, लेकिन फिर भी मैं आपको यही एडवाइज दूंगा कि गूगल ओपिनियन रिवार्ड्स एप इंस्टॉल करते समय भाषा का चयन हिंदी और इंग्लिश दोनों करें क्योंकि इससे आपको डबल बेनिफिट होगा, अगर आप एक लैंग्वेज सेलेक्ट करते हो तो आपको एक ही लैंग्वेज में सर्वे दिया जाएगा इसलिए हिंदी और इंग्लिश दोनों का चयन करें जिससे आपको हिंदी और इंग्लिश लैंग्वेज में एक साथ दो सर्वे दिए जाएंगे और आपका डबल बेनिफिट होगा।

Friday, 28 December 2018

Browser Push Notification Kaise Disable / Block Or Delete Kare

अब जमाना आ गया है सब कुछ अपने हिसाब से कंट्रोल करने का तो फिर क्यों हो अनचाही (Web Notification) से परेशान बस 5 मिनट में अपने Computer या Mobile में यह सेटिंग करें और ब्लॉक करें अनचाही वेब नोटिफिकेशन को। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि जब भी हम कोई नया एप्लीकेशन मोबाइल में इंस्टॉल करते हैं तो उसका (Notification) ऑन रहता है और वह हमें बार-बार परेशान करता है। अगर आप नहीं चाहते, तो 5 मिनट में यह स्टेप फॉलो करके अनचाही (Web Notification) को Block कर सकते हैं।

Browser Push Notification Kaise Disable / Block Or Delete Kare


Notification Kaise Disable kare Android App के लिए इस तरह करें

एंड्राइड App के (Notification) को मैनुअल तरीके से और थर्ड पार्टी एप्लीकेशन की मदद से (Disable) किया जा सकता है।
  1. मैनुअल तरीके से (Disable) करने के लिए फोन सेटिंग में जाकर (App Notification) पर क्लिक करें, इसके बाद जिस एप्लीकेशन का नोटिफिकेशन बंद करना चाहते हैं उसके बटन पर क्लिक करके ऑफ कर दे।
  2. थर्ड पार्टी एप्लीकेशन से डिसएबल करने के लिए आपको गूगल प्ले स्टोर से (DND Notification) एप्लीकेशन को इंस्टॉल करना होगा, इस एप्लीकेशन को काम करने के लिए आपका फोन रूटेड होना चाहिए। अगर आपका फोन रूटेड है तो आप अपनी पसंद या नापसंद के हिसाब से या फिर सभी एप्लीकेशन के (Web Notification) को एक साथ (Disable) कर सकते हैं।

Notification Kaise Disable kare Facebook में इस तरह करे

Facebook App के (Push Notification) तो ऊपर बताए गए तरीके से बंद हो जाएंगे, लेकिन फेसबुक आपकी रजिस्टर्ड ईमेल आईडी पर भी (Notification) भेजता है, इनमें से आप कुछ (Notification) देख पाते हैं और कुछ नहीं देख पाते हैं। इस वजह से आपका इनबॉक्स हमेशा फेसबुक के (Notification) से भरा रहता है। इसलिए यह आसान स्टेप फॉलो करके फेसबुक के नोटिफिकेशन को बंद कर सकते हैं। 
सबसे पहले रजिस्टर्ड ईमेल आईडी या फोन नंबर से फेसबुक अकाउंट को लॉगइन करें, इसके बाद मैन्यू पर क्लिक करें और सेटिंग पर जाएं, यहां आपको (Notification) ऑप्शन दिखाई देगा इस पर क्लिक करने के बाद नोटिफिकेशन सेटिंग का एक नया पेज खुल जाएगा, यहां अपनी पसंद के अनुसार (Important Notification) को बंद और चालू किया जा सकता है।
Also Read- Android Phone Ki Battery Kaise Bachaye


Notification Kaise Disable kare Google Chrome में इस तरह करे

गूगल क्रोम सभी डिवाइस में यूज किया जाता है, इसलिए (Notification Disable) करने की सेटिंग विंडोज पीसी, आईफोन / एप्पल मैक और एंड्राइड यूजर्स के लिए एक जैसी ही है। इसलिए किसी भी डिवाइस में वेब नोटिफिकेशन को डिसएबल करने के लिए यह आसान स्टेप फॉलो कर सकते हैं।
  1. क्रोम ब्राउज़र ओपन करें
  2. टॉप राइट साइड में थ्री डॉट्स पर क्लिक करें
  3. सेटिंग पर क्लिक करें
  4. एडवांस सेटिंग में प्राइवेसी पर क्लिक करें
  5. फिर दूसरे सब सेक्शन में जाकर कंटेंट सेटिंग्स पर क्लिक करें
  6. अगली विंडो में नोटिफिकेशन सेक्शन में जाए
  7. यहां से नोटिफिकेशन डिसएबल कर सकते हैं
Also Read- Android Mobile Me Long Screenshot Kaise Le


Notification Kaise Disable kare UC Browser में ऐसे करें

इंडिया में (UC Browser) काफी पॉपुलर है इसका इस्तेमाल लाखों लोग करते हैं। इसलिए हम यूसी ब्राउजर में (Notification Disable) करने के आसान स्टेप बता रहे हैं जिनको आप फॉलो करके यूसी ब्राउजर में (Notification Disable) कर सकते हैं।
  1. यूसी ब्राउज़र ओपन करें
  2. मेनू पर क्लिक करें
  3. सेटिंग पर क्लिक करें
  4. नोटिफिकेशन सेटिंग पर क्लिक करें
  5. यहां से अपनी पसंद अनुसार नोटिफिकेशन डिसएबल कर सकते हैं
Also Read- How to Apply for Driving License Online in CSC


Notification Block करते समय यह गलती ना करें

नोटिफिकेशन ब्लॉक करने के चक्कर में लोग अक्सर कुछ गलतियां कर जाते हैं जिनसे उनको भारी नुकसान भी हो सकता है। इसलिए नोटिफिकेशन ब्लॉक करते समय इन जरूरी बातों का ध्यान अवश्य रखें।
  1. नोटिफिकेशन डिसएबल करते समय इस बात का ध्यान रखें कि जो एप्स या वेबसाइट आपके लिए ज्यादा जरूरी है उसके बाय डिफॉल्ट सभी नोटिफिकेशन एक साथ डिसएबल ना करें क्योंकि वह सिक्योरिटी से रिलेटेड ईमेल या नोटिफिकेशन भी आपको भेजता है। अगर आप ऐसा करते हैं तो आपके अकाउंट में कुछ प्रॉब्लम होने पर आपको नोटिफिकेशन प्राप्त नहीं होंगे इससे आपको काफी नुकसान हो सकता है।

Sunday, 23 December 2018

Android Phone Ki Battery Kaise Bachaye

आज के दौर में मोबाइल फोन हर किसी की जिंदगी का सबसे अहम हिस्सा बन गया है। लोग अपने कार्यो को पूरा करने के लिए कंप्यूटर के बजाय (SmartPhone) का ज्यादा यूज करते हैं। एक लाइन में कहे तो अब हमारा स्मार्टफोन एक मल्टीटास्कर बन चुका है जिसका उपयोग हम हर क्षेत्र में करते हैं चाहे विडियो देखना हो, गेम खेलना हो या फिर कुछ सर्च करना हो। लेकिन इन सभी जरूरतों को पूरा करने के लिए स्मार्टफोन में (Long Battery) होनी चाहिए। लिथियम आयन बैटरी लाइफ इसके लिए नाकाफी साबित हो रही है। जिसका सबसे बड़ा कारण स्मार्टफोन के बैकग्राउंड में रन करने वाले एप्स होते हैं जो इस्तेमाल न होने पर भी ऑन रहते हैं और लगातार बैटरी की खपत करते रहते हैं। इस समस्या को दूर करने के लिए यहां कुछ टिप्स बताए जा रहे हैं, जिनका उपयोग करके न केवल फोन की (Battery Life) को बढ़ाया जा सकता है बल्कि फोन के इंटरनेट डाटा भी बचाया जा सकता है।

Android Phone Ki Battery Kaise Bachaye ?

Smiley face बैकग्राउंड एप्स की समय सीमा तय करें

फोन यूज़ नहीं लेने पर भी बैकग्राउंड में चलने वाले मोबाइल एप्लीकेशन स्मार्टफोन की सबसे ज्यादा बैटरी खर्च करते हैं। खासकर यह एप्लीकेशन उस समय ज्यादा (Battery Use) करते हैं जब मोबाइल में इंटरनेट डाटा ऑन हो। इसलिए जब आवश्यकता ना हो तो इंटरनेट को ऑफ कर दें या फिर बैकग्राउंड में डाटा की खपत कर रहे अनावश्यक Apps को बंद करने के लिए फोन सेटिंग में जाकर सबसे पहले डाटा यूसेज पर क्लिक करें और इसके बाद बैकग्राउंड डाटा पर क्लिक करे फिर उन एप्स का डाटा टर्न ऑफ कर दे जो बैकग्राउंड में ज्यादा डाटा यूज करते हैं।

Smiley face प्ले स्टोर में ऑटो अपडेट बंद करें

मोबाइल में यूज होने वाले Apps को बेहतर बनाने के लिए डेवलपर्स समय-समय पर उनका नया वर्जन अपडेट करते रहते हैं। इसलिए जब भी स्मार्टफोन वाईफाई से कनेक्ट होता है तो प्ले स्टोर बिना परमिशन इन सभी एप्स को अपडेट कर देता है। इससे (Phone Ki Battery) और इंटरनेट डाटा जल्दी खत्म हो जाता है। इसलिए इसे बंद करने के लिए प्ले स्टोर ओपन करने के बाद सबसे पहले मेनू पर क्लिक करें और फिर सेटिंग मैं जाकर ऑटो अपडेट पर क्लिक करें इसके बाद डू नॉट अपडेट ऑप्शन को ऑन कर दें।

Smiley face गूगल असिस्टेंट को डिसएबल करें

(Android Phone) को वॉइस से कंट्रोल करने के लिए यह सब से पॉपुलर एप्लीकेशन है। एंड्राइड के कई फीचर्स को वॉइस से कंट्रोल करने के लिए यह यूजर की कई तरह से मदद करता है। इसलिए यह बैकग्राउंड में हमेशा रनिंग में रहता है और बैटरी की खपत लगातार करता है। इसलिए अगर आप इसका ज्यादा यूज़ नहीं करते हैं या इस पर ज्यादा निर्भर नहीं है तो इसे बंद करना ही उचित रहेगा।

Android Mobile Me Long Screenshot Kaise Le ?
How to Apply for Driving License Online in CSC ?

Smiley face जीपीएस को बंद रखें

जीपीएस का यूज मोबाइल में सिर्फ गूगल मैप के लिए ही नहीं होता है बल्कि मोबाइल में कई ऎसे एप्लीकेशन होते हैं जो जीपीएस का यूज करते हैं जिनकी आपको आवश्यकता भी नहीं होती। लेकिन फिर भी वे जीपीएस का यूज लगातार करते हैं। इससे मोबाइल की बैटरी और इंटरनेट डाटा ज्यादा खपत होता है। इसलिए जब जीपीएस की आवश्यकता ना हो तो इसे बंद कर देना चाहिए।

Smiley face लाइट वेब एप्लीकेशन का यूज करें

जो फोन कम पावर वाले होते हैं उनके लिए कंपनियां लाइट वेब एप्लीकेशन डिवेलप करती है। जैसे कि प्ले स्टोर पर फेसबुक के दो वर्जन हैं पहला Facebook और दूसरा Facebook Lite है। इसमें से फेसबुक लाइट, फेसबुक का स्लिम किया गया वर्जन है। जिसका यूज करने पर बैटरी और इंटरनेट डाटा दोनों की खपत कम होती है। इसलिए फोन में बैटरी बैकअप की समस्या हो तो लाइट वेब एप्लीकेशन का यूज करना चाहिए।

Smiley face मोबाइल की ब्राइटनेस कम रखे

अगर आप (Mobile Phone) का यूज फुल ब्राइटनेस या ऑटो ब्राइटनेस मोड में लगाकर करते हैं तो इससे भी मोबाइल फोन की बैटरी जल्दी खत्म हो जाती है और फोन काफी हिट करने लग जाता है। इसलिए मोबाइल फोन को लो ब्राइटनेस मोड में लगाकर यूज करें, ताकि मोबाइल की बैटरी जल्दी खत्म ना हो और उसकी हेल्थ बढ़ सके। फुल ब्राइटनेस में फोन यूज करने का प्रभाव आपकी आंखों पर भी पड़ता है इसलिए कोशिश करें कि मोबाइल की ब्राइटनेस कम से कम रहे।

स्मार्टफोन की बैटरी लाइफ बढ़ाने के लिए यह गलतियां कभी ना करें

लोग अक्सर मोबाइल की बैटरी लाइफ बढ़ाने के लिए सभी तरीके अपनाते हैं और कुछ ऐसी गलतियां कर जाते हैं जिनसे आपको काफी नुकसान हो सकता है, तो मैं आपको कुछ ऐसे टिप्स बता रहा हूं जो आप अपने स्मार्टफोन की बैटरी लाइफ बढ़ाने के लिए ना करें।
  1. स्मार्टफोन की बैटरी लाइफ बढ़ाने के लिए किसी भी तरह के बैटरी सेवर या मोबाइल एप्लीकेशन का उपयोग ना करें। क्योंकि बैटरी सेवर ऐप्स भी बैकग्राउंड में रनिंग करते हैं और लगातार बैटरी की खपत करते हैं। बैटरी सेवर एप्लीकेशन आपके बैकग्राउंड डाटा को तो पूरी तरह बंद कर देते हैं लेकिन खुद के बैकग्राउंड डाटा को रिजेक्ट नहीं करते है और बार-बार स्क्रीन पर ऐड भी दिखाते है इससे आपकी बैटरी जल्दी खत्म हो जाती है। बिना बैटरी सेवर के यह सब फोन सेटिंग में जाकर आप खुद भी कर सकते हैं। ऐसा करने के लिए फोन में किसी तरह का Apps इंस्टॉल करने की भी आवश्यकता नहीं है।
  2. आवश्यकता के अनुसार ही बैकग्राउंड डाटा को रिजेक्ट करें लोग अक्सर बैटरी सेव करने के चक्कर में बैकग्राउंड डाटा को पूरी तरह से रिजेक्ट कर देते हैं। और ऐसा करने से आपके सभी मोबाइल एप्लीकेशन का बैकग्राउंड डाटा बंद हो जाता है जिससे आपको ईमेल, व्हाट्सएप मैसेज या फेसबुक नोटिफिकेशन नहीं मिल पाते हैं इसलिए ऐसा करने से पहले इस बात का भी ध्यान रखें।

Saturday, 6 October 2018

Android Mobile Me Long Screenshot Kaise Le

वास्तव में Screenshot स्मार्टफोन में काफी उपयोगी फीचर है, कई लोग इस फंक्शन का उपयोग अनेक कार्यों में करते हैं। लेकिन इतना उपयोगी फीचर होने के बावजूद भी इसमें कुछ प्रतिबंध है, क्योंकि इस फंक्शन से एक बार में स्क्रीन पर दिखाई देने वाली कुछ चीजों का ही स्क्रीनशॉट लिया जा सकता है। इस समस्या को हल करने के लिए Xiaomi ने MIUI में Long Scrolling Screenshot सुविधा को पेश किया है। इस सुविधा के माध्यम से लंबे पेज के स्क्रीनशॉट को आसानी से लिया जा सकता है, आप Panasonic के पिक्चर कैप्चर फीचर साथ इसकी तुलना कर सकते हैं, क्योंकि यह सुविधा एक समान काम करती है। Long Screenshot सुविधा आने के बाद भी हर एंड्रॉइड डिवाइस संभावित रूप से इसका उपयोग करने के लिए सक्षम नहीं है। प्रत्येक एंड्रॉइड डिवाइस में यह फैसिलिटी प्राप्त करने के लिए एक मैथर्ड अप्लाई किया जा सकता है। जिसके माध्यम से कोई भी एंड्रॉयड डिवाइस इस सुविधा को प्राप्त कर सकता है।
यह भी पढ़े- How to Apply for Driving License Online in CSC

Android Mobile Me Long Screenshot Kaise Le ?


यह एक Third Party Application है जो Google Play Store पर उपलब्ध है। इसे विशेष रूप से लोंग स्क्रीनशॉट लेने के उद्देश्य से ही बनाया गया है। इसमें स्क्रीनशॉट लेने की प्रक्रिया बहुत ही सरल है, बस App खोलें और फिर कैप्चर विकल्प का चयन करें। स्क्रीन प्वाइंट के साथ धीरे-धीरे नीचे स्क्रॉल करके स्क्रीनशॉट कैप्चर कर सकते है।

Long Screenshot- को विडियो के माध्यम से समझे।


यह भी पढ़े- Pc Remote Control App | Mobile Se Pc Ko Kaise Control Kare

Long Screenshot के लिए App को किस तरह सेट अप करें।

चरण 1. सबसे पहले Google Play Store से अपने एंड्रॉइड डिवाइस में LongShot App डाउनलोड और इंस्टॉल करें।

चरण 2. अब App ओपन करे और सभी Permissions दें। अब एप्लीकेशन के मेन पेज पर Auto Capture के ऑप्शन को Enable करें।
यह भी पढ़े- Whatsapp Profile Kon Kon Dekhta Hai (Kaise Pata Kare)

चरण 3. फोन के होम स्क्रीन पर आपको स्टार्ट बटन दिखाई देगा। अब आपको उस Page पर जाना होगा जहां से आप स्क्रीनशॉट लेना चाहते हैं, फिर स्टार्ट बटन पर टैप करें।

चरण 4. पहली बार टैप करने के बाद उस पेज को धीरे-धीरे स्क्रॉल करे जहां तक आपको स्क्रीनशॉट लेना है। और अंत में Done बटन पर क्लिक करें।

चरण 5. अब एप्लीकेशन आपको Individual Screenshot दिखाएगा। आपको यहां पर Join बटन पर क्लिक करना होगा और एप्लीकेशन Screenshots को जोड़ देगा। इस तरह आप किसी भी एंड्राइड मोबाइल में Long Screenshot आसानी से ले सकते है।
यह भी पढ़े- Paytm Face Login - Feature